बिना बुखार हो सकता है डेंगू, जानें इसके लक्षण

biharinfo

मानसून के बदलाव के कारन कई तरीके की बीमारिया फैलती है जिनमे से एक खतरनाक बीमारी डेंगू का बुखार भी है,कई मर्तवा डेंगू हो जाती है लेकिन बुखार सुरुवात में नहीं होती है,अगस्त से लेकर अक्टूबर के बीच आपको सिरदर्द, भूख न लगना, शरीर में दर्द, बुखार, ब्लड प्रेशर का कम होना आदि समस्या है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

ये है डेंगू के लक्षण और प्रभाव :

  1. जोड़ो और मांसपेशियों में दर्द होना।
  2. भूख कम लगना।
  3. स्किन में लाल धब्बे पड़ जाना।
  4. तेज ठंड लगकर बुखार आना
  5. नाक, मुंह, मसूड़ो या स्किन से खून निकलना
  6. खून या नार्मल उल्टी होना।
  7. मल का रंग काला होना।
  8. बेवजह थकान और कमजोरी होना।
  9. अधिक पसीना आना

डेंगू बुखार से बचाओ के उपाय :

  • डेंगू के मरीजों को डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए,
  • आराम करना चाहिए और काफी मात्रा में तरल आहार लेना चाहिए।
  • 5 दिन से अधिक समय तक बुखार होने पर रक्तजांच ज़रूर करा लें।
  • डेंगू से बचना है तो मच्छरों से बचें।डेंगू मच्छर ठहरे हुए पानी में पनपते हैं,
  • जैसे – कूलर के पानी में, रुंधे हुए नालों में और आस-पास की नालियों में।
  • डेंगू कम रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले व्यक्तियों को आसानी से हो जाता हैडेंगू के सबसे ज़्यादा मामले बारिश के मौसम में देखने में आते हैं
  • यह मच्छर दिन में काटते हैं।

biharinfo आपको ऐसे ही खबरों से रूबरू करते रहेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here