जम्मू कश्मीर के केंद्र शासित राज्य बनने के बाद क्या क्या कर सकता है पाकिस्तान ,जाने संपूर्ण ख़बर!

अमित शाह

आज के ऐतिहासिक फैसले के वजह से अब से जम्मू कश्मीर से पूर्ण राज्य का दर्जा और धारा 370 और 35 A को लगभग समाप्त कर दिया गया ,ये सारे काम आज के राज्यसभा में हुए और ये पूर्ण बहुमत के साथ फैसला लिया गया। लेकिन अभी भी 370 पर भारत को ICJ और UNSC में चुनौती दे सकता है पाकिस्तान।

भारत में पाकिस्तान के पूर्व उच्चायुक्त रहे अब्दुल बासित ने सोमवार(आज) को कहा कि जम्मू कश्मीर पर भारत के फैसले को पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में चुनौती दे सकता है.

अमित शाह

भारत में पाकिस्तान के पूर्व उच्चायुक्त रहे अब्दुल बासित के अनुसार, भारत अनुच्छेद 370 को इस तरह संसद और केंद्र सरकार के आदेश से नहीं हटा सकता है. अब्दुल बासित ने आगे कहा, “अनुच्छेद 370 को सिर्फ कश्मीर की संसद (विधानसभा) से हटाया जा सकता है.”, उन्होंने सुझाव दिया, “पाकिस्तान भारत के निर्णय को अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत को चुनौती दे सकता है.

सोमवार के दिन संसद में खूब हंगामा हुआ और इस हंगामे की अगुवाई विपक्ष के द्वारा किया गया जिसमे गुलाम नवी आज़ाद ने काफी कुछ कहा जिसमे उन्होंने लोकतंत्र की हत्या तक करार दे दिया, लेकिन इतने विरोध के बाद भी कई विपक्ष पार्टिया ने समर्थन दिया और ये पारित हो गया. जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत जो विशेषाधिकार मिलते थे वे अब नहीं मिलेंगे. साथ ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अब से अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश होंगे. राज्यसभा में सोमवार को जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक पास कर दिया गया. विधेयक के पक्ष में 125 वोट और विपक्ष में 61 वोट पड़े. राज्यसभा से जम्मू कश्मीर आरक्षण दूसरा संशोधन बिल ध्वनिमत से पारित किया गया.

हिंदुस्तान

सम्पूर्ण देश में आज ख़ुशी का माहौल है जो पिछले 70 वर्षो में नहीं हुआ वो आज हो गया. इसका श्रेय संपूर्ण देशवाशियो को और बी जे पी को और गृह मंत्री अमित शाह और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है।और संपूर्ण देश वासियो को बधाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here