Wednesday, August 21, 2019
Home Blog

दोस्ताना 2 से करेंगे तब्बू के भांजे डेब्यू देखे ख़बर ?

दोस्ताना के हिट होने के बाद अब दोस्ताना का सीक्वल बनाने की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. दोस्ताना 2 में जाह्नवी कपूर और कार्तिक आर्यन लीड रोल में नजर आएंगे और यही पे एक नया चेहरा अपना डेब्यू करेगा।खबरे आ रही है फतेह रंधावा तीसरे चेहरे के रूप में नजर आयंगे ,नई रिपोर्ट्स की मानें तो दोस्ताना 2 में सेकेंड मेल लीड में एक्ट्रेस तब्बू के भांजे फतेह रंधावा का नाम फाइनल हुआ है.

फतेह रंधावा, विंदू दारा सिंह और उनकी पहली पत्नी फराह नाज के बेटे हैं.बीते दिनों ऐसी खबरें थीं कि फिल्म दोस्ताना 2 में जाह्नवी और कार्तिक के साथ लीड रोल में सिद्धार्थ मल्होत्रा नजर आएंगे. लेकिन अब नई रिपोर्ट्स की मानें तो दोस्ताना 2 के लिए फिल्म के मेकर्स ने फतेह रंधावा का नाम फाइनल कर लिया है. 2020 में यह फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज होगी.ये खबरे काफी चौकाने वाला है और लोग इस फिल्म का बेसब्री से इंतज़ारकर रहे है। दोस्ताना फिल्म काफी हिट रही थी इसके साथ ही प्रोडूसर्स ने इसके अगले सीक्वल की तैयारी सुरु कर दी थी.

 

कश्मीर या लद्दाख के हिस्से में होगा कारगिल, जाने पूरी ख़बर!

कश्मीर से 370 के हटने के बाद इसका विभाजन भी हो गया है ,कश्मीर को 2 भागो में बाँट दिया गया है एक लद्दाख और एक जम्मू कश्मीर।जम्मू-कश्मीर राज्य पुनर्गठन विधेयक 2019 के कानून बनने के बाद जम्मू-कश्मीर का मानचित्र पूरा बदल जाएगा. लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद सामरिक दृष्टि से अहम कारगिल जिला केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का हिस्सा नहीं रह जाएगा.

अमित शाह

विधेयक 2019 के कानून बनने के बाद जम्मू-कश्मीर का मानचित्र पूरा बदल जाएगा. लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद सामरिक दृष्टि से अहम करगिल जिला केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का हिस्सा नहीं रह जाएगा. जम्मू-कश्मीर राज्य पुनर्गठन विधेयक के प्रावधानों के मुताबिक करगिल और लेह जिले को मिलाकर लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा. जम्मू-कश्मीर राज्य के बाकी बचे जिलों को मिलाकर जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित राज्य बनाया जाएगा.

इसका फायदा कश्मीरियों को बहोत ज्यादा मिलेगा क्युकी तेजी से विकास के लिए प्रतिबद्ध होना जरूरी होता है, करगिल जिला 1999 में भारत-पाकिस्तान के बीच हुई लड़ाई का पर्याय बन गया था. जहा पराक्रम से यहाँ तिरंगा लहराया गया।

जम्मू-कश्मीर में कई प्रशासनिक:

राज्यसभा के चार मौजूदा सांसद जो जम्मू-कश्मीर का प्रतिनिधित्व करते हैं वे अब केंद्र शासित प्रदेशों का प्रतिनिधित्व करेंगे. उनके कार्यकाल में कोई बदलाव नहीं आएगा.

हिंदुस्तान

जम्मू-कश्मीर के लोकसभा के 6 मौजूदा सांसदों को कार्यकाल में कोई बदलाव नहीं आएगा. वे अपना कार्यकाल पूरा होने तक काम करते रहेंगे. नए जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में 5 सांसद होंगे और लद्दाख के लिए एक सांसद होगा.

नई जम्मू-कश्मीर विधानसभा में अनुसूचित जाति और जनजाति को आबादी के अनुपात में आरक्षण दिया जाएगा.

इन सभी करने से काफी फायदा होगा देश के विकास और प्रगति में.

साहो के लिए इतने करोड़ ली है श्रद्धा ,जाने पूरी खबर !

साहो इस साल की बड़ीबजट की फिल्म है ,ये फिल्म बनाने में काफी मेहनत लगी है और प्रोडूसर्स का ढेर सारा पैसा भी लगा है.सुपरहिट फिल्म बाहुबली के बाद प्रभास की एक्शन थ्रिलर फिल्म साहो को लेकर जबरदस्त चर्चा है. फिल्म का ट्रेलर लॉन्च हो चुका है.और जबर्दश्त रेस्पॉन्स मिला है दर्शको की ओर से।

साहो में प्रभास के अपोजिट श्रद्धा कपूर नजर आएंगी. इस फिल्म से वह टॉलीवुड में डेब्यू करने जा रही हैं. चर्चा है कि श्रद्धा ने फिल्म के लिए भारी भरकम फीस वसूली है. बताया जा रहा है कि श्रद्धा कपूर ने साहो के लिए 7 करोड़ रुपये मेहनताना लिया है.

shraddha kapoor wallpapers in saree Awesome 898 shraddha kapoor cute hd wallpapers

जी हां ये सच है श्रद्धा कपूर ने 7 करोड़ रुपये मेहनताना लिया है,साउथ सिनेमा में किसी एक्ट्रेस के लिए इतनी फीस की मांग करना बड़ी बात है. हिट फिल्में देनी पड़ती है और इसमें कई साल लग जाते हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि साउथ इंडस्ट्री के लिए श्रद्धा नई हैं. भले ही वह बॉलीवुड में खुद को स्थापित करने में कामयाब हो चुकी हैं, लेकिन पहली साउथ फिल्म के लिए इतनी बड़ी रकम लेना हर किसी के लिए चौंकाने वाला है.

फिल्म में श्रद्धा कपूर ने अमृता नैयर की भूमिका निभाई हैं. वे इस फिल्म में क्राइम ब्रांच ऑफिसर का रोल कर रही हैं. फिल्म 30 अगस्त को रिलीज हो रही है. फिल्म में प्रभास और साहो के अलावा जैकी श्रॉफ, चंकी पांडे, महेश मांजरेकर और नील नितिन मुकेश विलेन्स की भूमिका में हैं. फिल्म का बजट 250 से 350 करोड़ के बीच बताया जा रहा है.ये बहोत बड़ीबजट की फिल्म हिअ जो परदे पे ३० को नजर आएगी।

जम्मू कश्मीर के केंद्र शासित राज्य बनने के बाद क्या क्या कर सकता है पाकिस्तान ,जाने संपूर्ण ख़बर!

अमित शाह

आज के ऐतिहासिक फैसले के वजह से अब से जम्मू कश्मीर से पूर्ण राज्य का दर्जा और धारा 370 और 35 A को लगभग समाप्त कर दिया गया ,ये सारे काम आज के राज्यसभा में हुए और ये पूर्ण बहुमत के साथ फैसला लिया गया। लेकिन अभी भी 370 पर भारत को ICJ और UNSC में चुनौती दे सकता है पाकिस्तान।

भारत में पाकिस्तान के पूर्व उच्चायुक्त रहे अब्दुल बासित ने सोमवार(आज) को कहा कि जम्मू कश्मीर पर भारत के फैसले को पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में चुनौती दे सकता है.

अमित शाह

भारत में पाकिस्तान के पूर्व उच्चायुक्त रहे अब्दुल बासित के अनुसार, भारत अनुच्छेद 370 को इस तरह संसद और केंद्र सरकार के आदेश से नहीं हटा सकता है. अब्दुल बासित ने आगे कहा, “अनुच्छेद 370 को सिर्फ कश्मीर की संसद (विधानसभा) से हटाया जा सकता है.”, उन्होंने सुझाव दिया, “पाकिस्तान भारत के निर्णय को अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत को चुनौती दे सकता है.

सोमवार के दिन संसद में खूब हंगामा हुआ और इस हंगामे की अगुवाई विपक्ष के द्वारा किया गया जिसमे गुलाम नवी आज़ाद ने काफी कुछ कहा जिसमे उन्होंने लोकतंत्र की हत्या तक करार दे दिया, लेकिन इतने विरोध के बाद भी कई विपक्ष पार्टिया ने समर्थन दिया और ये पारित हो गया. जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत जो विशेषाधिकार मिलते थे वे अब नहीं मिलेंगे. साथ ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अब से अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश होंगे. राज्यसभा में सोमवार को जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक पास कर दिया गया. विधेयक के पक्ष में 125 वोट और विपक्ष में 61 वोट पड़े. राज्यसभा से जम्मू कश्मीर आरक्षण दूसरा संशोधन बिल ध्वनिमत से पारित किया गया.

हिंदुस्तान

सम्पूर्ण देश में आज ख़ुशी का माहौल है जो पिछले 70 वर्षो में नहीं हुआ वो आज हो गया. इसका श्रेय संपूर्ण देशवाशियो को और बी जे पी को और गृह मंत्री अमित शाह और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है।और संपूर्ण देश वासियो को बधाई।

बिना बुखार हो सकता है डेंगू, जानें इसके लक्षण

biharinfo

मानसून के बदलाव के कारन कई तरीके की बीमारिया फैलती है जिनमे से एक खतरनाक बीमारी डेंगू का बुखार भी है,कई मर्तवा डेंगू हो जाती है लेकिन बुखार सुरुवात में नहीं होती है,अगस्त से लेकर अक्टूबर के बीच आपको सिरदर्द, भूख न लगना, शरीर में दर्द, बुखार, ब्लड प्रेशर का कम होना आदि समस्या है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

ये है डेंगू के लक्षण और प्रभाव :

  1. जोड़ो और मांसपेशियों में दर्द होना।
  2. भूख कम लगना।
  3. स्किन में लाल धब्बे पड़ जाना।
  4. तेज ठंड लगकर बुखार आना
  5. नाक, मुंह, मसूड़ो या स्किन से खून निकलना
  6. खून या नार्मल उल्टी होना।
  7. मल का रंग काला होना।
  8. बेवजह थकान और कमजोरी होना।
  9. अधिक पसीना आना

डेंगू बुखार से बचाओ के उपाय :

  • डेंगू के मरीजों को डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए,
  • आराम करना चाहिए और काफी मात्रा में तरल आहार लेना चाहिए।
  • 5 दिन से अधिक समय तक बुखार होने पर रक्तजांच ज़रूर करा लें।
  • डेंगू से बचना है तो मच्छरों से बचें।डेंगू मच्छर ठहरे हुए पानी में पनपते हैं,
  • जैसे – कूलर के पानी में, रुंधे हुए नालों में और आस-पास की नालियों में।
  • डेंगू कम रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले व्यक्तियों को आसानी से हो जाता हैडेंगू के सबसे ज़्यादा मामले बारिश के मौसम में देखने में आते हैं
  • यह मच्छर दिन में काटते हैं।

biharinfo आपको ऐसे ही खबरों से रूबरू करते रहेंगे।

 

बिहार बोर्ड की तरफ से इंटर के 28500 बच्चो मिलेगा छात्रवृत्ति

top bihar colleges

अगर आपका इस वर्ष इंटर में 75 फीसदी से ज्यादा अंक आये है तो आपको फायदा होने वाला है। बिहार के 28 हजार 407 विद्यार्थियों की सूची मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भेजा गया है।भारत सरकार द्वारा दी जाने वाली केंद्रीय क्षेत्र की इस छात्रवृत्ति में शामिल विद्यार्थियों को स्नातक की पढ़ाई के लिए दस हजार की वार्षिक छात्रवृत्ति दी जाती है। वहीं, स्नातकोत्तर के लिए 20 हजार छात्रवृत्ति दी जाती है. ये एक बड़ा फायदा मिलेगा बच्चो को।

bihar

14000 छात्राओं को भी मिलेगा छात्रवृति :

14 हजार 203 छात्राएं जिनको ये छत्रवृति मिलेगा , जो इंजीनियरिंग कॉलेज में बीटेक से स्नातक करने वाले छात्र है उनको   केवल स्नातक तक ही यह छात्रवृत्ति दी जाती है| सबसे ज्यादा छात्र ए एन कॉलेज पटना के छात्र लाभान्वित होंगे।

इस सहयोग का असली मकसद है देश की अर्थव्यवस्था और शिक्षा व्यवस्था में सुधर हो और बच्चो का पढाई पे ज्यादा से ज्यादा ध्यान जाये ,बहुत सारे कॉलेज के शिक्षक भी सहमत है इससे गरीब बच्चो को काफी फायदा होगा।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को मिली जमानत लालू की जमानत पे राबड़ी देवी ने ये कहा

लालू

राजद कार्यकर्ताओ के लिए बहुत बड़ी ख़बर है राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को जमानत मिल गयी है.काफी लम्बे  वक़्त से वो बीमार चल रहे थे.बिहार में लालू के अनुपस्थिति में राजद को भारी  हार का सामना करना पड़ा था लोकशभा के चुनाव में इस  खबर को पाकर काफी रहत मिली होगी लालू प्रसाद यादव के समर्थको को|

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा था कि उन्हें न्यायालय पर पूरा भरोसा है और लालू जी को जरूर न्याय मिलेगा।राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने भी ये कहा कि कोर्ट पर हमें पूरा भरोसा था औऱ  भी बाकी मामलों में भी लालू यादव जी को न्याय मिलेगा। वही  जीतनराम मांझी ने भी कहा कि लालू प्रसाद यादव गरीब जनता की आवाज हैं, लालू जी जल्दही जेल से बाहर आएंगे।

चारा घोटाला मामले में देवघर कोषागार मामले में उन्हें जमानत मिल गई है ये रांची की अदालत में फैसला आया है.50-50 हजार के दो मुचलके पर राजद सुप्रीमो लालू  प्रसाद यादव को जमानत मिली है.

बिहार मे कोशी नदी अपने खतरे निशान के ऊपर ,बाँध टुटा

koshi nadi

बिहार मे कोशी नदी अपने खतरे निशान के ऊपर ,बाँध टुटा

बिहार में लगातार बारिश के कारण कई नदियाँ उफान पर है ,कई नदिया अपने खतरे के निशान से ऊपर चल है,मानसून ने अब पूरे भारत को कवर कर लिया है| कई जगह पे इसके कई फायदे है तो कई जगह इसके काफी नुकसान भी,यही हालत अभी बिहार की बनी हुए है |

 कोसी बैराज से छोड़ा गया डेढ़ लाख क्यूसेक पानी :

ये समस्या बनती दिख रही क्योंकि  बिहार का का शोक कोशी नदी को कहा जाता है,कुछ वर्ष पहले  बिहार में कोशी का प्रलय  कारन भारी नुकसान का सामना करना पारा था और भारी जान माल का नुकशान  हुआ था.इसलिए   ये बड़ी परेशानी का शबब बन  बन गया है.

मौषम विभाग क का क्या है कहना :

अगले 48 घंटे हल्की  बारिश के संपूर्ण बिहार में आसार है,उत्तरप्रदेश में भी बस्ती, गोंडा, बहराइच में लगातार बारिश के चलते बाढ़ की स्थिति बनती नजर आ रही है.

यहां बाँध टूट गया है :

जोरदार बारिश के कारन 6 नदिया उफान पर है और मुजफ्फरपुर में बांध टूटा गया है ,वही मध्य प्रदेश में बारिश से रहत मिलेगी और उत्तर प्रदेश में भरी बारिश के आसार है.

Best hospitals in Muzaffarpur for patients

hospitals in muzaffarpur

Best hospitals in Muzaffarpur for patients:

There are large numbers of hospitals in Bihar and Muzaffarpur. But some best hospitals are given by customer  reports and as qualifications of doctors and courses given by colleges,facilities and many more reports. As clinical researches we assume these are the Best hospitals in Muzaffarpur for patients .

As per information of

  • short-term hospitalization.
  • emergency room services.
  • general and specialty surgical services.
  • x ray/radiology services.
  • laboratory services.
  • blood services.

hospitals in muzaffarpur

Best hospitals in Muzaffarpur for patients:

1.Mishra hospitals and test tube center,

2.Prashant Hospital,

3.Prasad Hospital,

4.Dr. Sushmita Pushpam,

5.Mahabir Hospital,

6.Galaxy Hospitals,

7.Parijat Nursing Home,

8.Rbm Hospital Pvt Ltd,

9.Kalindi Maternity And Child Care Center Dr Rajiva Kumar Chaitanya Kumar Child Specialist,

10.Ma Janki Hospital Research Center Pvt Ltd

So ,In above you can see the best hospitals in Muzaffarpur for patients .As per information of these services:

people faces many health issues. Due to this reason they have to take treatments for their health problems. So for health treatments hospitals are needed .The Ayurveda Hospitals are plays a very important role in the medical treatments.

 

 

इंटर और मैट्रिक परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन की तारीख बढ़ा दी गयी है

bihar news

बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर के द्वारा ये बताया गया है की इंटरमीडिए परीक्षा 2020 के लिए ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने हेतु समिति द्वारा 29 जून 2019 से  लेकर 8 जुलाई 2019 तक का समय तय किया गया था जिसे बढ़ाकर अब 15 जुलाई कर दिया गया है.

bihar news

Isliye sabhi bachcho ke liye rahat ki khabar hai.Bihar me abhi mansoon ke aagman ke karan kafi baarish ho rahi hai is karan aavedan karne me bachcho ko kafi taklif ho rahi thi,Is news ke karan kafi labh prapt hoga intermediate or matric ke vidyarthiyo ke liye.